ऑनलाइन शॉपिंग पर निबंध: अर्थ, फायदे, नुकसान

Hindi Essay on Online Shopping for students, Advantages and disadvantages of online shopping in Hindi, ऑनलाइन शॉपिंग पर निबंध: अर्थ, फायदे, नुकसान

ऑनलाइन शॉपिंग क्या है? What is Online Shopping in Hindi

बचपन में कहानियों में हम सुनते थे कि सांता क्लॉज़ बच्चों को उनकी इच्छा के उपहार देने घर-घर जाते थे। किसी ने कल्पना भी नहीं की थी कि ऐसा वास्तविक जीवन में भी हो सकता है। लेकिन आधुनिक विज्ञान ने आज की दुनिया में इसे संभव बना दिया है।आइये,जानते हैं कैसे?  यह डिजिटल शॉपिंग, ऑनलाइन शॉपिंग, ई-कॉमर्स, ऑनलाइन खरीददारी, इंटरनेट शॉपिंग जैसे विभिन्न नामों से जाना जाता है। यह वास्तव में हमारी साधारण खरीददारी की तरह ही है, सिवाय इसके कि यहां खरीददार, दुकानदार के पास नहीं जाता है। बल्कि, एक वेबसाइट के माध्यम से पूरा स्टोर उसके लैपटॉप या मोबाइल फोन में भेजा जाता है।

ऑनलाइन शॉपिंग कब शुरू हुई (History of Online Shopping)

पहला सुरक्षित ऑनलाइन लेन-देन वर्ष 1994 में किया गया था। इसके तुरंत बाद 1995 में अमेज़ॅन और ई-बे ने अपनी खरीदारी साइटों को स्थापित कर दिया । अमेज़न.कॉम, ई-बे, फ्लिप्कार्ट, पेटीएम् , स्नैपडील, मिन्त्रा.कॉम, जैबोंग.कॉम, बिग्बास्केट.कॉम, अर्बन क्लैप, येभी.कॉम प्रसिद्ध ऑनलाइन वेब साईट के नाम हैं। स्मार्ट फोन और सस्ते इंटरनेट पैकेज की उपलब्धता के कारण ऑनलाइन शॉपिंग ने सभी के जीवन में एक महत्वपूर्ण जगह बना ली है।

इन्टरनेट पर क्या खरीद सकते हैं?

इंटरनेट पर लोगऑनलाइन शॉपिंग के माध्यम से रसोई के सामान से लेकर सोने तक बड़ी संख्या में लगभग सब कुछ खरीदते हैं। भौतिक वस्तुएं खरीदने के अलावा हम ऑनलाइन सेवाएं भी खरीद सकते हैं। उदाहरण के लिए, सौन्दर्य प्रसाधिका की सेवा,घर की बिजली और पानी के नल से सम्बंधित शिकायतों का घर बैठे निदान, , घरेलू नौकरानियों की सेवाओं को भी विभिन्न वेब साइटों के माध्यम से ऑनलाइन व्यवस्थित किया जा सकता है। यह इतना आसान है कि बच्चे भी ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं।

ऑनलाइन शॉपिंग कैसे करें ? (How to buy online in Hindi)

फोने के माध्यम से इन्टरनेट पर वस्तुएं मंगवाने के लिए बस एक बुनियादी ज्ञान की आवश्यकता होती है इस तरह से थोडा सा समय और ज्ञान खर्च कर आप घर बैठे अपनी मन-पसंद चीज़ पा सकते हैं।

पहले लोग पैसा खोने के डर से इस माध्यम से सामान नहीं लेते थे। लेकिन’ कैश ऑन डिलीवरी’ यानि कि ‘वस्तु मिल जाने के बाद पैसा देना’ के विकल्प ने इस डर को छूमंतर कर दिया है। अधिकांश खरीददारी स्थलों पर EMI (समान मासिक किस्तों) का विकल्प अर्थात, छोटी किश्तों में भुगतान करना, भी उपलब्ध है। जो लोग एक बार में उत्पाद की पूरी कीमत का भुगतान नहीं कर सकते, वे भी ऑनलाइन ईएमआई योजना के माध्यम से उत्पाद खरीद सकते हैं।

मोबाइल एप्स के द्वारा खरीददारी

आजकल सभी ऑनलाइन विक्रेताओं ने इसे और भी आसान बनाने के लिए अपने मोबाइल ऐप जारी कर दिए हैं।यह बच्चों के खेल जितना आसन है। सबसे पहले ऐप खोलें, उन वस्तुओं का चयन करें जिन्हें आप खरीदना चाहते हैं और चेकआउट करने के लिए आगे बढ़ें । वहां डिलीवरी के दिन और तारीख का उल्लेख किया जाएगा। सबसे दिलचस्प हिस्सा यह है कि हमारे भौतिक खरीदारी की तरह परिवर्तन और वापसी के विकल्प भी यहां उपलब्ध हैं।हर बीतते दिन के साथ अधिक से अधिक खरीदार ऑनलाइन खरीददारी की ओर आकर्षित हो रहे हैं क्योंकि इसमें बहुत अधिक फायदे हैं ।

ऑनलाइन शॉपिंग के फ़ायदे निबंध (Advantages of online shopping in Hindi)

  • जिस वस्तु को हम खरीदना चाहते हैं, उससे मिलती जुलती वस्तुओं की विशेषताओं और कीमत के बीच तुलना करके श्रेष्ठ उत्पाद को चुना जा सकता है ।
  • यह समय बचाता है और हम अपना समय अधिक उत्पादक कामों में लगा सकते हैं।
  • यह ईंधन बचाता है और प्रदूषण और यातायात जाम को भी कम करता है।
  • हमें अपने साप्ताहिक अवकाश की प्रतीक्षा नहीं करनी पड़ती क्योंकि ऑनलाइन दुकानें 24 घंटे खुली रहती हैं।
  • किसी उत्पाद की गुणवत्ता के बारे में कोई संदेह होने पर हम उसकी समीक्षाओं को पढ़ सकते हैं ।
  • ऑनलाइन स्टोर पर सामान अपेक्षाकृत सस्ते होते हैं क्योंकि उनका रखरखाव खर्च लगभग नगण्य होता है।
  • ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियां अपने ग्राहकों को अपने उत्पादों को बेचने के लिए कैश बैक, लकी ड्रॉ, त्योहारों पर भारी छूट जैसी योजनाओं की पेशकश करती रहती है ।
  • लोग मध्य रात्रि के बाद भी अपनी ज़रुरत की चीज़ें आर्डर कर सकते हैं ।

अब तक आप जान ही गए होंगे कि ऑनलाइन शॉपिंग के कई फायदे हैं । लेकिन, कोई इस बात से अनजान नहीं कि, ‘हर सिक्के के दो पहलू होते हैं’ ।

ऑनलाइन शॉपिंग के नुकसान निबंध (Disadvantages of online shopping)

  • कई बार ग्राहकों को टूटे- फूटे और खराब उत्पाद भेज दिए जाते हैं ।
  • कम कीमत वाली चीज़ों के मामले में अक्सर भेजने का शुल्क उनकी कीमत से भी ज्यादा होता है ।
  • बहुत बार सामान इतनी देरी से पहुँचता है कि उसकी आवश्यकता ही ख़त्म हो चुकी होती है ।
  • अगर सावधानी से काम न किया जाए तो पैसे के लेन देन में धोखाधड़ी की अधिक सम्भावना होती है ।
  • चयन करते समय मदद करने के लिए कोई व्यक्ति नहीं होने से परेशानी होती है ।
  • ऑनलाइन खरीदारी छोटे और स्थानीय दुकानदारों को आगे नहीं आने देती। बड़े व्यापारिक घराने बिक्री का ज़्यादातर हिस्सा ले जाते हैं ।

ऑनलाइन शॉपिंग करते समय सावधानियां

हालाँकि, कुछ एहतियाती कदमों का पालन करके इन नुकसानों से बचा जा सकता है।

  • हमेशा विश्वसनीय वेबसाइटों से खरीदें
  • विभिन्न साइटों की समीक्षाओं और उपयोगकर्ताओं की टिप्पणियों को पढ़ें
  • उत्पाद से सम्बंधित नीतियों को अच्छी तरह से पढ़ें

इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि इन्टरनेट पर खरीदने के लाभ ज़्यादा और हानि कम हैं। इसलिए ‘हैप्पी ऑनलाइन शॉपिंग’।

क्या ऑनलाइन शॉपिंग पर निबंध पढ़कर आपको कुछ मदद मिली ? कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं | किसी भी विषय पर निबंध सहायता के लिए आप हमे Request Tab में लिखें | आपको FREE help मिलेगी |

शब्द अर्थ
पौराणिक पुराने समय का
सौन्दर्य प्रसाधिका सौन्दर्य निखारने वाली, Beautician
बुनियादी मुख्य, मौलिक, ख़ास
गुणवत्ता विशिष्टता
प्रतीक्षा इंतज़ार करना
नगण्य बहुत कम या न के बराबर

Leave a Reply