लॉक डाउन का सदुपयोग निबंध, Hindi Essay on lockdown ka Sadupyog’

कोविड 19 महामारी के कारण होने वाले लॉक डाउन का सदुपयोग मैंने कैसे किया ? इस निबंध का उद्देश्य पाठकों को समय का सदुपयोग करने के लिए प्रेरित करना है | जानिये मैंने लॉक डाउन में क्या किया जिसने मेरे जीवन की दिशा ही बदल दी |

अन्य शीर्षक : Hindi Essay on How I used Lockdown, मैंने लॉक डाउन कैसे बिताया, लॉक डाउन के फायदे, लॉक डाउन का सकारात्मक प्रभाव, लॉक डाउन के वो दिन, आपने लॉक डाउन में क्या सीखा, लॉकडाउन डायरी, तालाबंदी: दुःख के भेष में सुख

लॉक डाउन का सदुपयोग निबंध

मैंने लॉकडाउन का सदुपयोग कैसे किया हिंदी निबंध

लॉकडाउन क्या है? What is Lockdown in Hindi?

जब किसी महामारी के फैलने की वजह से लोगों के घर से बाहर निकलने पर पूर्णतया रोक लगा दी जाती है, तो उसे लॉक-डाउन (lockdown) कहा जाता है | 24 मार्च 2020 को कोरोनावायरस के द्वारा फैली बीमारी कोविड-19 के कारण पूरे देश में तालाबंदी कर दी गई | अचानक से सभी काम रोक देने पड़े | सभी लोग दिशाहीन हो गए, कि क्या करें ? कहां तो लोगों के पास पल भर की भी फुर्सत ना थी और अचानक से उन्हें दिन के पूरे 24 घंटे मिल गए | साधारणतया, हर आदमी के पास समय का अभाव होता है | पहले सभी लोग इतने व्यस्त थे कि परिवार और अपने लिए चाह कर भी समय नहीं निकाल पाते थे |

लॉकडाउन का सदुपयोग निबंध

शुरुआती एक-दो दिन तो बहुत अच्छा लगा | कभी भी सोयें, कभी भी जागें | पर कुछ दिनों बाद ही बहुत बोरियत होने लगी | सारा दिन व्यक्ति क्या करे ? स्कूल, कॉलेज, या ऑफिस तो जाना ही नहीं| तो सोचा क्यों ना इन अनचाही छुट्टियों का सदुपयोग किया जाए |

अब जब लॉक डाउन शुरू हुआ और लगा कि यह लंबा खिंचेगा तो मैंने निर्णय कर लिया कि मैं इस लॉक डाउन का सदुपयोग करूंगी | मैंने उन कामों की एक सूची बनाई जिनके लिए पहले मेरे पास समय नहीं था | परंतु अब प्रचुर मात्रा में समय मिल गया था | अगले ही दिन से मैंने शुरुआत कर दी | मेरी सूची में पहले नंबर पर था – अपने स्वास्थ्य को अच्छा करना | तो मैंने अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने का एक दैनिक कार्यक्रम बनाया |

लॉकडाउन में मैंने क्या किया, जानिये

सबसे पहले सुबह उठकर आधा घंटा व्यायाम करने की योजना बनाई | विचार आया कि शरीर को थोड़ी धूप मिलना भी बहुत जरूरी है | ताला बंदी की वजह से घर से बाहर तो जा नहीं सकते थे, इसलिए व्यायाम के लिए ऐसी जगह चुनी जहां पर सुबह की मीठी धूपअन्दर ही आती हो | इस तरह से मैंने आधा घंटा अच्छे से व्यायाम और सूर्य स्नान किया |

कुछ कसरतों को समझने के लिए मैंने इंटरनेट की सहायता ली | इस तरह से मुझे एक काम से दो फायदे मिले एक तो मेरे शरीर में विटामिन डी की पूर्ति हो गई और योग से लचीलापन भी आ गया | इसके अलावा मैंने फैसला किया कि मैं दिन भर में सेहतमंद और पौष्टिक खाद्य पदार्थ ग्रहण करूंगी जिसका मैंने पालन भी किया |

सेहत के बाद सूची में दूसरा नंबर था इंटरनेट से वेबसाइट बनाना सीखना | जब मैंने गूगल पर वेबसाइट बनाने की खोज की तो मैं यह देखकर हैरान रह गई कि कितने हजारों वीडियो और ज्ञानवर्धक लेख वहां पर उपलब्ध थे और वह भी मुफ्त में | मुझे बहुत बहुत अच्छा लगा और उन्हें देखकर मुझे बहुत प्रेरणा मिली | मैंने कुछ लोगों की सफलता की कहानियां भी पड़ी | जिससे मेरी जिज्ञासा और मेरा मनोबल और भी बढ़ गया | पंद्रह दिन में मैं वेबसाइट बनाने की बेसिक जानकारी के बारे में जान चुकी थी |

आप पढ़ रहे हैं मैंने लॉकडाउन में क्या किया हिंदी निबंध

कुछ दिनों बाद पता लगा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा लॉक डाउन की अवधि बढ़ा दी गयी है | सुनकर अच्छा लगा | अपना उद्देश्य पूरा करने के लिए और अधिक समय मिल गया | अब मैंने वेबसाइट डोमेन और होस्टिंग खरीद कर अपनी वेबसाइट पर लिखना शुरु कर दिया | लिखने के काम में पहले से ही माहिर थी | हालाँकि, डिजाइनिंग का काम मुझे थोड़ा कम आता था | इधर-उधर से पढ़कर धीरे-धीरे मैं सब सीख गई | इतना सीख गई कि एक बेसिक वेबसाइट बनकर तैयार हो गई|

इस तरह कोविड १९ के कारण मिले अतिरिक्त समय का मैंने बहुत ही फायदेमंद उपयोग किया | पहला, मुझे वेबसाइट डिजाइन करनी आ गयी | दूसरा , मैंने और अधिक अध्ययन किया और गहराई से बातों को समझा | नए-नए लेख और किताबें पढ़ने से मेरे ज्ञान में वृद्धि हुई | तीसरा, मुझे यह एहसास हुआ कि इंटरनेट पर लिखना एक ऐसा माध्यम है जिससे मैं दुनिया से जुड़ सकती हूं | इस काम को मैं कहीं भी बैठकर, किसी भी समय में, और किसी भी उम्र में कर सकती हूँ | मुझे अपने जीवन में एक नया उद्देश्य मिल गया | यदि आप जानना चाहते हैं कि अपने इस नए लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मैंने क्या प्रयास किये तो पढ़िए- मेरे जीवन का उद्देश्य और मेरे प्रयास

लॉक डाउन के फायदे

तालाबंदी में लोगों ने यह भी सीखा :

  • घर में झाड़ू-पोछा करना
  • बर्तन साफ़ करना
  • योग एवं व्यायाम
  • कंप्यूटर चलाना
  • कंप्यूटर से सम्बंधित कोर्स
  • मोबाइल फ़ोन चलाना
  • नयी भाषा बोलना, लिखना
  • खाना पकाना
  • अध्यापकों ने ऑनलाइन पढ़ाना
  • विद्यार्थियों ने ऑनलाइन पढ़ना
  • अमेज़न पर Audible किताबों को सुनना
  • अपने आप को स्वस्थ रखना

आशा है आप लोगों ने भी लॉक-डाउन का सदुपयोग किया होगा | इन 2 महीने की छुट्टियों को केवल लूडो और ताश खेलकर या टीवी पर ऊल-जुलूल धारावाहिक देखकर ही नहीं बिताया होगा | आपने लॉक डाउन में क्या सीखा ? नीचे टिप्पणी कर ज़रूर बताएं |

इसे भी पढ़िए:  ‘पहली ऑनलाइन क्लास का अनुभव’

योग का महत्त्व पर निबंध

Leave a Reply