सौर ऊर्जा पर निबंध|Essay on Solar Energy in Hindi|

इस निबंध में सौर ऊर्जा यानी सोलर एनर्जी पर विस्तृत जानकारी दी जा रही है | साल 2020 में रीवा सोलर प्रोजेक्ट का उदघाटन होने के कारण इस साल की परीक्षा में सूर्य से मिलने वाली उर्जा के सम्बन्ध में पूछा जा सकता है | ‘सौर ऊर्जा पर निबंध’, ‘Essay on Solar Energy in Hindi’ बच्चों के लिए महत्वपूर्ण है

सौर ऊर्जा क्या है? What is Solar Energy in Hindi?

सूरज एक आग के गोले के सामान है | यह अपनी किरणों के द्वारा धरती पर अपार गर्मी फेंकता रहता है | विभिन्न उपकरणों के द्वारा जब इस heat या गर्मी से बिजली बनायीं जाती है तो उस बिजली को सौर उर्जा कहा जाता है | आपको यह ज्ञात होगा की पौधे सौर ऊर्जा का उपयोग कर अपना भोजन तैयार करते हैं। पत्तियां सूर्य से प्रकाश प्राप्त करके भोजन तैयार करने के लिए प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया में इसका उपयोग करती हैं। इस तरह, पौधों द्वारा फल, फूल, और सब्जियां बनाने में सूर्य की अहम् भूमिका है |

Essay on Solar Energy in Hindi सौर उर्जा पर निबंध (क्लास 6-12)

सूरज पूरी दुनिया की ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करता है। यह कभी न ख़त्म होने वाला उर्जा का स्रोत है | 2 घंटे से भी कम समय में पृथ्वी को सूर्य से इतनी ऊर्जा की मात्रा प्राप्त होती है,जितना हम एक साल में खर्च करते हैं। लेकिन इसे बिजली में बदलने का काम अभी धीरे-धीरे हो रहा है |

सूरज से बिजली कैसे बनती है ?

बिजली उत्पादन विधि जो सूर्य की ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करती है- इसमें सौर पैनलों का उपयोग होता है जो अक्सर एक इमारत की छत पर व्यवस्थित होते हैं या सौर खेतों में केंद्रित होते हैं | सोलर पैनल कई सोलर सेल्स से मिलकर बना होता है | जब इन सोलर सेल्स पर सूर्य की रोशनी पड़ती है तो ये इस प्रकाश को बिजली में बदल देते हैं |

सौर ऊर्जा को इकट्ठा करने के लिए फोटोवोल्टिक प्रणाली अपने सिस्टम में कई घटकों का उपयोग करती है। इस प्रणाली की सबसे उल्लेखनीय विशेषता सौर पैनल है। पैनल सौर ऊर्जा एकत्र करता है और इसे डीसी करंट में बदल देता है और फिर सौर ऊर्जा कनवर्टर इसे एक प्रयोग करने योग्य एसी करंट में बदल देता है। यह प्रणाली व्यावहारिक है और यह दुनिया भर के कई घरों और व्यवसायों पर दिखाई दी है।

आप पढ़ रहे है –Essay on Solar Energy in Hindi

सोलर एनर्जी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए भारत की सरकार प्रयासरत है |आइये जानते हैं सरकार द्वारा इस दिशा में उठाये गए महत्वपूर्ण कदम क्या हैं –

  • भादला, राजस्थान में अभी तक की सबसे सस्ती; २.४४ प्रति यूनिट की बिजली का उत्पादन
  • पूरे विश्व में भारत नवीकरणीय उर्जा स्रोत में पांचवें स्थान पर है
  • पिछले पांच सालों से अभी २०२० तक नवीकरणीय उर्जा स्रोतों में २२६% की वृद्धि
  • सौर उर्जा का उत्पादन 2.6GW से 34 GW तक हुआ है |

अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन, पेरिस 2015 (निबंध)

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद द्वारा 30 नवंबर, 2015 को स्थापित, आईएसए (ISA) का उद्देश्य सौर ऊर्जा को स्केल करना, सौर वित्त, प्रौद्योगिकियों, नवाचार, अनुसंधान और विकास की मांग के एकत्रीकरण के माध्यम से सौर ऊर्जा उत्पादन की लागत को कम करना है | इंटरनेशनल सोलर अलायंस (ISA), का उद्देश्य 2030 तक आवश्यक 1000 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक निवेश जुटाना है ताकि वह अपने लक्ष्य को पूरा कर सके |

कार्यालय, ऑफिस, या फैक्ट्री की छत पर सोलर पैनल लगाकर भी बिजली का खर्च कम करें

आप पढ़ रहे है –Essay on Solar Energy in Hindi

घर की छत पर सोलर पैनल लगाकर करें कमाई, सरकार भी करेगी मदद

भारत के प्रमुख सोलर पॉवर प्लांट Solar Energy Plants in India

  1. भादला सोलर पार्क – 2,250MW- यह राजस्थान के भादला गाँव में है और सबसे अधिक क्षमता वाला सोलर पार्क है |
  2. शक्ति स्थल सौर ऊर्जा परियोजना – 2,050MW- यह कर्नाटक राज्य के पावगाड़ा में स्थापित है | भादला के बाद दूसरा नंबर इसका है |
  3. अल्ट्रा मेगा सोलर पार्क – 1,000MW- यह आंध्र प्रदेश के कुरनूल में बनाया गया है
  4. रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर प्लांट – 750 MW – यह मध्य प्रदेश में स्थित है |
  5. कामुथी सोलर पॉवर प्लांट – ६४८ MW- यह तमिलनाडु में है |

सौर ऊर्जा को कैसे उपयोग करें

सौर ऊर्जा को कई तरह से उपयोग किया जा सकता है। सौर ऊर्जा पर काम करने वाले अन्य उपकरण सौर कुकर, सौर हीटर और सौर सेल हैं।

गैस, मिट्टी के तेल, या लकड़ी जैसे पारंपरिक ईंधन का उपयोग करने के बजाय, सोलर कुकर खाना पकाने के लिए प्रयोग करके वातावरण को हानिकारक वायु प्रदुषण से बचाया जा सकता है |

सोलर हीटर वे उपकरण हैं जो सौर ऊर्जा से पानी को गर्म करने में मदद करते हैं।

आखिरी रूप सौर सेल है। ये सौर सेल सीधे सौर प्रकाश को बिजली में परिवर्तित करते हैं। कई कैलकुलेटर, कलाई घड़ी इस तकनीक के साथ काम करती हैं।

Official Website- https://mnre.gov.in/

सौर उर्जा के फायदे निबंध (Advantages of Solar Energy in Hindi)

  1. सौर उर्जा का मुख्य लाभ यह है कि यह बिजली का एक कभी न ख़त्म होने वाला स्रोत है।
  2. सौर ऊर्जा स्केलेबल भी है। इसका मतलब यह है कि इसे छोटे से छोटे पैमाने से बहुत बड़े पैमाने तक लगाया व इस्तेमाल किया जा सकता है। जब इसे छोटे पैमाने पर उपयोग किया जाता है, तो अतिरिक्त बिजली को बैटरी में संग्रहीत कर लिया जाता है | और जब बड़े लेवल पर सोलर पैनल लगाये जाते है तो पैदा होने वाली बिजली को ग्रिड में फीड कर दिया जाता है।
  3. लागत पैनलों की संख्या पर निर्भर करता है कि सौर बिजली की लगत क्या होगी | लेकिन आम तौर पर, सौर ऊर्जा हर साल अधिक सस्ती होती जा रही है। स्वच्छ ऊर्जा की दिशा में सौर ऊर्जा भविष्य की महत्वपूर्ण उत्पादन पद्धति है, और जैसे-जैसे इसके लिए ज़रूरी उपकरणों की कीमतों में गिरावट आती है, इसका महत्व बढ़ता जाएगा।
  4. जब आप बिजली बनाने के लिए सौर पैनलों का उपयोग करते हैं तो कोई ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन (CO2) वातावरण में नहीं किया जाता है। इसलिए सौर ऊर्जा एक स्वच्छ स्रोत है | इस तरह बिजली का यह रूप पर्यावरण में हमारे कार्बन पदचिह्न को कम करने और जलवायु परिवर्तन को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  5. दुर्गम इलाके जहाँ पर बिजली के खंबे और तारों को लगाना बिल्ली के गले में घंटी बाँधने के समान है, अर्थात मुश्किल है, वहां सोलर पैनल लगाकर बिजली की ज़रूरतों की पूर्ती की जा सकती है |
  6. बंजर ज़मीन पर सोलर पैनल लगाकर बेकार पड़ी ज़मीन का सदुपयोग किया जा सकता है |

सौर ऊर्जा के नुकसान निबंध Disadvantages of Solar Energy in Hindi

  1. सौर ऊर्जा को केवल दिन के दौरान ही उपयोग किया जा सकता है जब सूरज चमकता है। बारिश के दिनों में भी सोलर एनर्जी नहीं बने जा सकती |
  2. साथ ही, इसमें उपयोग किए जाने वाले उपकरण महंगे और नाजुक हैं।
  3. इन्हें नुकसान से बचने के लिए बहुत देखभाल की आवश्यकता होती है क्योंकि इन्हें बदलकर लगाने की लागत अधिक होती है।
  4. यह उर्जा का एक नया रूप है जिसे अपनाने में लोगों को हिचकिचाहट होती है | क्योंकि आम लोगों को इसका पूरा ज्ञान नहीं है |
  5. सरकार की ओर से उर्जा संबंधी कानूनों को सख्ती से लागू नहीं किया गया है |

आशा करते हैं कि आपको यह ‘Essay on Solar Energy in Hindi’ समझ आया होगा | आप अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं |

ज़रूर पढ़ें : रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर प्लांट क्या है? हिंदी निबंध

Leave a Reply