आत्मनिर्भर भारत: कोविड-19 और उसके बाद डिजिटल इंडिया की भूमिका

आत्मनिर्भर भारत-स्वतंत्र भारत Essay Writing Competition की ‘कोविड१९ और डिजिटल इंडिया’ थीम पर लिखा यह निबंध आपको प्रतियोगिता जीतने में मदद करेगा|

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम भारत सरकार द्वारा शुरू की गयी एक योजना है| इसका उद्घाटन प्रधानमन्त्री नरेंदर मोदी द्वारा 1 जुलाई 2015 को उत्तराखंड राज्य में किया गया था | स्तंवत्रता के बाद से ही भारत विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर बहुत अधिक ध्यान दे रहा है | डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के माध्यम से सरकार तकनीकी क्षेत्र में भारत को सशक्त करना चाहती है |

Aatmnirbhar Bharat Swatantra Bharat aur Covid 19 Essay in Hindi

विडियो में जानिये आत्मनिर्भर भारत-स्वतंत्र भारत पर Hindi Essay

इस योजना के तहत सभी सरकारी विभागों और लोगों को इंटरनेट से जोड़ने की कोशिश की जा रही है ताकि ज्यादातर सरकारी और रोज़मर्कारा के कामों का डिजिटाइजेशन किया जा सके और लोग घर बैठे अपने काम कंप्यूटर और फ़ोन के माध्यम से पूरे कर सकें| इस प्रकार जो समय और ऊर्जा की बचत होगी वह हम अन्य कामों में इस्तेमाल कर सकते हैं| इस योजना के तहत देश में ई-क्रांति लाने की मुहीम छेड़ी गयी है |

इस निबंध को डायरेक्ट टीचर से समझने के लिए इस विडियो लिंक पर क्लिक करें | यह सुविधा ख़ास तौर पर essayshout रीडर्स के लिए उपलब्ध है

आत्मनिर्भर भारत और डिजिटल इंडिया निबंध

डिजिटल इंडिया के पथ पर भारत 2015 से अग्रसर है और तेजी से उन्नति कर रहा है | आज डिजिटाइजेशन ने हमें घर बैठे बिजली के बिल जमा करने, एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसा भेजने, ऑनलाइन बच्चों की फीस जमा करने जैसी बुनियादी सेवाएं प्रदान की है| कौन जानता था 2015 में शुरू किया गया यह प्रोग्राम एक तारनहार की भूमिका निभाएगा |

2020 में जब कोरोनावायरस ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया और विश्व के अधिकतर देशों में तालाबंदी कर दी गई थी सब लोग अपने अपने घरों में कैद होने पर मजबूर थे; कहीं पर भी आना जाना संभव नहीं हो पा रहा था |उस समय हमें डिजिटाइजेशन के असली फायदे समझ में आए | हमें समझ आया कि हमारी सरकार ने कैसे दूरदर्शी नजर से यह डिजिटल इंडिया प्रोग्राम चलाकर अपने देशवासियों को इतने बड़े संकट से उबारा |

Hindi Essay on Covid 19 and Digital India

सफल डिजिटल इंडिया प्रोग्राम की वजह से कोविड-19 के दौरान हमारी सरकार ने लॉकडाउन से मजबूर गरीब जनता को घर बैठे उनके अकाउंट में पैसा पहुंचाया, उनके घरों में अनाज और तैयार भोजन पहुंचाया | इस प्रोग्राम की वजह से कोई भी व्यक्ति चाहे अमीर हो या गरीब वे सभी सोशल मीडिया के द्वारा अपनी समस्याएं दूसरे लोगों तक पहुंचा सकते हैं |

घर-घर में पहुंचाए सस्ते इंटरनेट ने ही बच्चों की पढ़ाई में कोई बाधा नहीं आने दी बच्चों की ऑनलाइन क्लास जारी रही लोग अपने घर से ऑफिस का काम करते रहे यह सब डिजिटल इंडिया प्रोग्राम की वजह से ही संभव हो पाया है कोविड-19 के दौरान भारत ने यह दिखा दिया कि भारत की जरूरतों के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं है | सस्ते मास्क, टेस्टिंग किट, और पी पी किट बनाकर भारत में आत्मनिर्भरता का डंका पूरे विश्व में बजा दिया | आत्मनिर्भरता के बल पर भारत की सरकार ने न केवल भारत को इस महामारी से बचाया बल्कि दूसरे देशों को भी यह चीजें भर भर कर दान की; जिसकी पूरे विश्व में सराहना की गई|

उपसंहार: आत्मनिर्भर भारत-डिजिटल भारत

डॉक्टरों से ऑनलाइन बातचीत संभव हो जाने की वजह से हम इस बीमारी को भी काबू में कर पाए और अपने बीमार लोगों को सही समय पर उचित परामर्श भी दे पाए | डॉक्टर, पुलिसकर्मी और सफाई कर्मचारी जिन्हें भारत ने कोरोना कमांडो का नाम दिया उन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना बढ़-चढ़कर इस काम में देश का साथ दिया | कौन जानता था कि 2015 में शुरू किया गया यह डिजिटल इंडिया प्रोग्राम इस तरह से आपदा प्रबंधन में इतना अधिक सहयोग करेगा| आज भारत आत्मनिर्भरता को अपनाकर पूर्ण स्वतंत्रता की ओर तेजी से बढ़ रहा है |

इस निबंध को डायरेक्ट टीचर से समझने के लिए इस विडियो लिंक पर क्लिक करें | यह सुविधा ख़ास तौर पर essayshout रीडर्स के लिए उपलब्ध है

पढ़िए: आत्मनिर्भर भारत- स्वतंत्र भारत पर निबंध

Leave a Reply