जीवन के रंग | जीवन में रंगों का महत्व हिन्दी कविता

होली के अवसर पर हम एक दूसरे पर कई रंग डालते हैं, लेकिन क्या हम अपने वास्तविक जीवन में रंगों के महत्व को समझते हैं? इस कविता में आपको बताया जा रहा है कि विभिन्न रंगों का जीवन में क्या तात्पर्य है।

हिन्दी कविता , जीवन में विभिन्न रंगों का महत्व और प्रभाव बताती यह कविता कक्षा 6 से 12 के विद्यार्थियों के लिए लिखी गई है। आप इस हिन्दी कविता को अपने स्कूल होमवर्क के लिए लिख सकते हैं।

जीवन में रंगों के महत्त्व पर 15-20 पंक्तियों की कविता लिखें

हिंदी होमवर्क (कक्षा 6 से 12 के लिए)

जीवन के रंग


जीवन के रंग है न्यारे,
इसको तू समझ ले प्यारे। 

कभी दुःख के बादल मंडराते हैं काले–काले,

तो कभी सुख की बारिश, करती है जीवन को, हरा-भरा। 

जहां क्रोध और घृणा इंसान को करता है, लाल पीला-नीला,

 वहीँ प्रेम  से लगता है जीवन में,

 खुशियों के रंगों का मेला है।

जीवन के रंग हैं न्यारे,
इसको तू समझ ले प्यारे।
 

ध्यान हमें पीले और नारंगी जैसे उत्साही रंग से भर देते हैं,

ज्ञान हमें रंगहीन दुनिया से रंगीली दुनिया में ले जाता है।

प्रेम और भक्ति के रंग में रंगने से,
मिलती है – सफेद रंग जैसी शांति और शीतलता।

अरे बंदे ! रुक , ठहर , समझ रंगों की बोली को,

अच्छे – अच्छे रंगों से भर ले तू अपनी झोली को।

जिंदगी के रंग है न्यारे,
इसको तू समझ ले प्यारे।

– सरिता बंसल

कोरोना वायरस पर कविता
हिंदी दिवस पर आसान कविता
शिक्षक दिवस पर भाषण
भारत निर्माण पर हिंदी कविता
होली पर निबंध | होली क्यों मनाई जाती है

Homework Help By RG

आपको यह कविता ‘जीवन के रंग’ कैसी लगी, कमेन्ट करके बताएं।

Leave a Comment

%d bloggers like this: